MSME क्या है? और MSME Registration Online in Hindi कैसे करे | Udyog Aadhaar Registration in Hindi

Please Share on Social Media

MSME Registration Online in Hindi:- MSME (Micro Small Medium Enterprises) माइक्रो, स्माल एंड मीडियम एंटरप्राइज यह छोटे एवं मध्यम उद्योग/कारोबार लगाए गए उद्योग का रजिस्ट्रेशन होता है. जिससे यह पता लगता है कि आपका उद्योग का नाम क्या है? और आप किस तरह का बिजनेस कर रहे हैं. अगर आप एक प्रोपराइटरशिप (Proprietorship), पार्टनरशिप (Partnership), एलएलपी (LLP) और कंपनी लिमिटेड (PVT. Ltd Company) उद्यमी है तो आपको MSME Registration Online जरूर करना चाहिए. क्योंकि एमएसएमई रजिस्ट्रेशन बहुत सारे फायदे (msme benefits in hindi) आपको देगा जैसे कि बैंक से लोन लेने में, जीएसटी GST बनवाने में या फिर और भी कोई सरकार का लाभ लेने के लिए आपके पास जो है एमएससी यानी कि जिसको हम उद्योग आधार Udyog Aadhaar Registration भी बोलते हैं. रजिस्ट्रेशन आपके पास होना चाहिए. आपको MSME Registration के बाद एक सर्टिफिकेट दिया जाता है. उद्योग के रूप में मांगे सर्टिफिकेट के जगह पर msme certificate का आप इस्तेमाल कर सकते हैं. इस आर्टिकल में आपको हम बताने जा रहे हैं कि एमएसएमई रजिस्ट्रेशन कैसे करेंगे, msme kya hai और कौन सा डॉक्यूमेंट देना पड़ेगा और किस तरह से msme certificate download कर सकते हैं.

Post NameMSME क्या है? और MSME Registration Online in Hindi कैसे करे | Udyog Aadhaar Registration in Hindi
Post Date07-09-2021
Post Update Date
Short Info..In this article we are going to Know, how to do MSME registration, what is MSME and what documents have to be given and how to download MSME certificate.

MSME/Udhyog Aadhar Kya hai (एमएसएमई/उद्योग आधार क्या है?

MSME Full Form (Micro Small Medium Enterprises) माइक्रो, स्माल एंड मीडियम एंटरप्राइज है .यह छोटे एवं मध्यम उद्योग/कारोबार लगाए गए उद्योग का रजिस्ट्रेशन होता है. जिससे यह पता लगता है कि आपका उद्योग का नाम क्या है? और आप किस तरह का बिजनेस कर रहे हैं.

अगर आप एक प्रोपराइटरशिप (Proprietorship), पार्टनरशिप (Partnership), एलएलपी (LLP) और कंपनी लिमिटेड (PVT. Ltd Company) उद्यमी है तो आपको MSME Registration Online जरूर करना चाहिए. क्योंकि एमएसएमई रजिस्ट्रेशन बहुत सारे फायदे (msme benefits in hindi) आपको देगा जैसे कि बैंक से लोन लेने में, जीएसटी GST बनवाने में या फिर और भी कोई सरकार का लाभ लेने के लिए आपके पास जो है एमएससी यानी कि जिसको हम उद्योग आधार Udyog Aadhaar Registration भी बोलते हैं. रजिस्ट्रेशन आपके पास होना चाहिए. आपको MSME Registration के बाद एक सर्टिफिकेट दिया जाता है. उद्योग के रूप में मांगे सर्टिफिकेट के जगह पर msme certificate का आप इस्तेमाल कर सकते हैं.

MSME/Udhyog Aadhar Portal की जानकरी

केंद्र सरकार ने इस महीने की शुरुआत में थोक व खुदरा व्यापारियों को एमएसएमई (माइक्रो, स्माल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज) के दायरे में लाने का ऐलान किया था. इससे अब थोक व खुदरा व्यापारियों को कारोबार के लिए लोन लेने में आसानी होगी. हालांकि इसके लिए उन्हें सेल्फ-डिक्लेरेशन और कॉस्ट-फ्री प्लेटफॉर्म MSME/Udhyog Aadhar Portal पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा. यह पोर्टल इनकम टैक्स और जीएसटीआईएन सिस्टम से मिला हुआ है.जिससे आधार नंबर/पैन भरने पर यह अपने आप इनकम टैक्स और जीएसटी से जुड़ी हुई डिटेल्स ले लेता है. इस पर रजिस्ट्रेशन के लिए कारोबारियों को सिर्फ आधार नंबर की जरूरत पड़ती है जिसके बाद एमएसएमईज को परमानेंट रजिस्ट्रेशन नंबर के साथ एक msme certificate दिया जाता है.

msme certificate पर एक क्यूआर कोड होता है जिससे पोर्टल पर एंटरप्राइज के बारे में जानकारी को एक्सेस किया जा सकता है. राज्य या केंद्र सरकार से या बैंकिंग क्षेत्र से MSMED अधिनियम के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए, व्यवसायों को एलएमई के रूप में पंजीकरण करना आवश्यक है। व्यापार और उद्यमिता विकास के कई मौद्रिक और गैर-मौद्रिक लाभ हैं जो व्यवसाय ऐसा करके प्राप्त कर सकते हैं। MSME Registration Online के अनुदान से व्यवसाय लाभ उठा सकते हैं.

Benefits of MSME/Udhyog Aadhar Registration ( एमएसएमई के फायेदे)

  • .एक एंटरप्राइजेज की कई गतिविधियों के लिए एक ही बार उद्यम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराना होता है.बिना किसी सिक्योरिटी के प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लोन ले सकते हैं.
  • एमएसएमई को प्राइम मिनिस्टर एंप्लॉयमेंट जेनेरेशन प्रोग्राम के तहत नया कारोबार शुरू करने के लिए लोन मिलता है.
  • सीजीटीएमएसई (क्रेडिट गारंटी फंड्स ट्रस्ट फॉर माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइजेज) के तहत बिना सिक्योरिटी के दो करोड़ रुपये तक का लोन ले सकत

अधिक से अधिक ऋण तक पहुंच

  • MSMEs के पास सबसे बड़ा लाभ यह है कि अन्य छोटे व्यवसायों के विपरीत, जो संपार्श्विक सुरक्षा के अभाव में ऋण हासिल करने में कठिनाइयों का सामना कर सकते हैं, बैंक सामान्य से कम ब्याज दरों पर ऋण की पेशकश करेंगे यदि आपका व्यवसाय MSME पंजीकृत है। बैंकों को विशेष रूप से ब्याज की दरों पर ऋण की पेशकश करने का निर्देश दिया गया है जो सामान्य से कम हैं और एमएसएमई पंजीकृत व्यवसाय अपनी बैंकिंग और ऋण देने की जरूरतों के लिए कई बैंकिंग संस्थानों से इसका लाभ उठा सकते हैं।
  • वास्तव में, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय और भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (SIDBI) ने माइक्रो के लिए क्रेडिट गारंटी फंड योजना लागू करने के लिए माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइजेज (CGTMSE) के लिए क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट नामक एक ट्रस्ट की स्थापना की है। और छोटे उद्यम। समान MSMEs के तहत रुपये तक के संपार्श्विक-मुक्त ऋण प्राप्त कर सकते हैं। 50 लाख।

पेटेंट पंजीकरण पर सब्सिडी

  • जिन व्यवसायों में एमएसएमई पंजीकरण है, वे पेटेंट पंजीकरण पर 50% अनुदान प्राप्त कर सकते हैं। यह अर्थव्यवस्था में उद्यम और नवाचार को प्रोत्साहित करने में मदद करना है।

ओवरड्राफ्ट पर ब्याज की कम दर

  • एमएसएमई पंजीकरण वाले उद्यमों को ओवरड्राफ्ट पर बैंकों द्वारा लगाए गए ब्याज दरों पर 1% छूट का लाभ भी मिल सकता है। यह नकदी प्रवाह और दिन-प्रतिदिन के कारोबार को आसान बनाता है।

प्राथमिकता उधार

भारतीय रिजर्व बैंक ने कुछ निश्चित धनराशि निर्धारित की है कि बैंक केवल MSME व्यवसायों को अनुदान देंगे। इसलिए यदि आप कभी अल्पकालिक या दीर्घकालिक वित्तपोषण की आवश्यकता में हैं, तो आप बैंकिंग संस्थानों से आसानी से और परेशानी मुक्त तरीके से ऋण ले सकते हैं।

आयकर छूट

  • एक और महत्वपूर्ण लाभ यह है कि यदि आपके पास एमएसएमई प्रमाणपत्र है तो आप लाखों रुपये बचा सकते हैं जो अन्यथा आयकर के रूप में चुकाए जाएंगे। कराधान के अनुमान के आधार के कारण आपको खातों की विस्तृत पुस्तकों को बनाए रखने और लेखा परीक्षा की प्रक्रिया से गुजरने से राहत मिली है।

अवसंरचना विकास के लिए पूंजी अनुदान

  • एमएसएमई अर्थव्यवस्था में रोजगार पैदा करते हैं और उद्यमशीलता को भी बढ़ावा देते हैं, जिसके कारण सरकार एमएसएमई के लिए प्रशिक्षण क्षेत्रों की पहचान करती है और बुनियादी ढांचे के सुधार और किसी भी उद्यमिता विकास के लिए पूंजी अनुदान प्रदान करती है।

आईएसओ प्रमाणन प्रतिपूर्ति

  • चूंकि सरकार का लक्ष्य सेक्टर-वार प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए MSMEs द्वारा प्राप्त मानकों और प्रमाणपत्रों में सुधार करना है, MSMEs सरकारी प्रमाणपत्र प्राप्त करने की प्रक्रिया में होने वाले किसी भी खर्च से छूट प्राप्त कर सकते हैं। इसमें ISO 9000, ISO 14001 और HACCP प्रमाणन शामिल है।

बाजार विकास सहायता योजना

  • सरकार प्राथमिकता नीति का पालन करती है और खरीदती है, जिसके तहत केंद्र सरकार द्वारा अनन्य खरीद के लिए सूचीबद्ध एमएसएमई से 350 से अधिक आइटम हैं।

MSMEs को तकनीकी सहायता

  • सरकार का उद्देश्य लागत-प्रभावशीलता में सुधार करना और विनिर्माण क्षेत्र में स्वच्छ ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देना है। इसलिए, सरकार की प्रतिपूर्ति परियोजना लागत हैं एमएसएमई क्षेत्र इकाइयां इन लक्ष्यों की ओर बढ़ सकती हैं। इसके अतिरिक्त, किसी भी स्वच्छ प्रौद्योगिकी को लागू करने के लिए किए गए किसी भी व्यय, एक ऑडिट रिपोर्ट की खरीद और अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय मानकों के अनुसार लाइसेंसिंग उत्पादों के लिए किसी भी सब्सिडी की प्रतिपूर्ति की जाती है।

MSME/Udhyog Aadhar Registration Documents Required

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • उद्यम की जानकारी
  • प्रोडक्ट NIC कोड

MSME/Udhyog Aadhar Registration Online कैसे करे

  • MSME/Udhyog Aadhar Registration Online करने हेतु सबसे पहले निचे दिए गए लिंक पर क्लीक करके udyamregistration.gov.in के ऑफिसियल पोर्टल पर जाएं
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म के लिए होमपेज पर New Registration पर क्लिक करें.
  • आधार नंबर और एंटरप्रेन्योर का नाम भरें.
  • वैलिडेट एंड जेनेरेट ओटीपी’ पर क्लिक करें
  • पैन वेरिफिकेशन स्टेप के लिए जरूरी डिटेल्स भरें.
  • उद्यम रजिस्ट्रेशन बॉक्स दिखेगा जिसमें जरूरी डिटेल्स भरने होंगे
  • रजिस्ट्रेशन पूरा होने के बाद एक मैसेज मिलेगा जिसमें रजिस्ट्रेशन नंबर होगा
  • रजिस्ट्रेशन पूरा होने के बाद एक मैसेज मिलेगा जिसमें रजिस्ट्रेशन नंबर होगा. इस नंबर की शुरुआत UDYAM से होगी
  • पंजीकरण अधिकारियों में से एक आपके उदयम पंजीकरण प्रक्रिया आवेदन को संसाधित करेगा
  • 1-2 घंटे में आपको अपने पंजीकृत ईमेल पते पर अपना पंजीकरण प्रमाणपत्र प्राप्त होगा
  • ज्यादा जानकरी के लिए निचे दिए गए विडियो को एक बार जरुर देखे

MSME/Udhyog Aadhar Certificate Download Online कैसे करे

वैसे तो MSME Registration करने के 1 से 2 घंटे के बाद MSME/Udhyog Aadhar Certificate आपके रजिस्टर मेल आईडी पर सेंड कर दिया जाता है लेकिन किसी कारण बस अगर आप पोर्टल से डाउनलोड करना चाहते हैं तो सबसे पहले नीचे दिए गए PRINT UDYAM REGISTRATION CERTIFICATE के लिंक पर क्लिक करें. अब आपसे उधम रजिस्ट्रेशन नंबर और रजिस्ट्रेशन के समय दिए गए मोबाइल नंबर मांगा जाएगा जिसको भर के आप अपने मोबाइल या फिर ईमेल आईडी पर ओटीपी आये OTP को डालकर MSME/Udhyog Aadhar Certificate Download करके प्रिंट कर सकते हैं

MSME/Udhyog Aadhar Update/Cancel कैसे करे

अपने MSME/Udhyog Aadhar Certificate में किसी भी तरह अपडेट करने के लिए और कैंसिल करने के लिए आपको सबसे पहले नीचे दिए गए Update/Cancel Udhyam Registration के बटन पर क्लिक करके ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा अब आपसे उधम रजिस्ट्रेशन नंबर दिए गए मोबाइल नंबर मांगा जाएगा जिसको भर के आप अपने मोबाइल या फिर ईमेल आईडी पर ओटीपी लेकर अपडेट और कैंसिल कर सकते हैं.

Important Links Section

Video Link Click Here
प्रोडक्ट NIC कोड Click Here
Update/Cancel Udhyam Registration Click Here
MSME/Udhyog Aadhar Certificate Download Click Here
MSME/Udhyog Aadhar Verify Online Click Here
MSME/Udhyog Aadhar Registration Online Click Here
Download Notification Click Here
Official Website Click Here

Please Share on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top